Advertisement

NALANDA : बिहारशरीफ के सोहडीह मुहल्ले में हुई एक अजीबोगरीब घटना ने लोगों को सोचने पर मजबूर कर दिया है। दरअसल, मंगलवार को आई आंधी जो पीपल का वृक्ष गिर पड़ा था, वह अचानक खड़ा हो गया है। वृक्ष को काटने पहुंचा बढ़ई भी गंभीर रूप से घायल है। कोई इसे चमत्कार तो कोई विज्ञान बता रहा है। फिलहाल वहां पूजा-पाठ का दौर शुरू हो गया है।

Advertisement

स्थानीय लोगों ने बताया कि तेज आंधी में सोहडीह के वार्ड-1 में स्थित देवी स्थान के पास का विशाल पीपल का पेड़ जड़ सहित उखड़कर गिर गया था। पेड़ गिरने के बाद इसकी जड़ से पानी की धार निकलने लगी। जब लोगों ने इसका टीडीएस मापा तो इसकी शुद्धता मिनरल वाटर इतनी थी। बाद में मुहल्ले के लोगों ने इस पेड़ को 25 सौ रूपये में बेच दिया।

बढ़ई धीरे-धीरे इसकी टहनी काटना शुरू किया। इसी बीच बुधवार को जब वह आरा लेकर इसके मुख्य तने को काटने के लिए पेड़ पर बैठा तो आरा चलते ही पेड़ खड़ा हो गया और झटके साथ बढ़ई दूर फेंका गया। गंभीर स्थिति में उसे पीएमसीएच भेजा गया है। पेड़ के फिर से खड़ा होने की सूचना जंगल की आग की तरह इलाके में फैल गई है।

काफी संख्या में लोग वहां जुट गए हैं। पेड़ अब फिर से पहले की भांति खड़ा है और लोग पूजा-अर्चना में जुटे हुए हैं। कोई इसे चमत्कार तो कोई विज्ञान का कमाल कह रहा है। फिलहाल पीपल के पेड़ का फिर से खड़ा हो जाना इलाके में कौतूहल का विषय बना हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here