Advertisement

पटना डेस्क: गोपालगंज ट्रिपल मर्डर मामले में आरोपी जदयू विधायक की गिरफ्तारी और पीड़ित को न्याय देने की मांग को लेकर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने मोर्चा ठंडा पड़ गया है। उन्होंने पहले ही साफ़ किया था कि वे अपने विधायक और विधान पार्षदों के संग शुक्रवार को गोपालगंज जाएंगे। लेकिन अब तेजस्वी यादव सरकार के आगे सरेंडर कर दिए हैं।

Advertisement

गोपालगंज जाने का कार्यक्रम स्थगित:

तेजस्वी यादव सुबह 9 बजे गोपालगंज के लिए निकलना चाहते थे। लेकिन सुबह से ही राबड़ी देवी के आवास के बाहर पुलिस बल की भारी तैनाती कर दी गई थी। सरकार ने लॉकडाउन का हवाला देते हुए तेजस्वी और उनके विधायकों को आगे जाने की अनुमति नहीं दी। लगभग 5 घंटे तक चली जद्दोजहद के बाद तेजस्वी यादव ने विधानसभा अध्यक्ष से मिलने की मांग की और स्पीकर विजय चौधरी से मुलाकात के बाद उन्होंने आखिरकार गोपालगंज जाने का कार्यक्रम स्थगित कर दिया।

स्पीकर विजय कुमार चौधरी से मुलाकात करते हुए तेजस्वी यादव और तेजप्रताप यादव

स्पीकर विजय कुमार चौधरी से मुलाकात के बाद तेजस्वी यादव ने कहा है कि वह मारपीट करने के लिए गोपालगंज नहीं जा रहे थे। लेकिन फिर भी सरकार ने उन्हें जाने की अनुमति नहीं दी। तेजस्वी ने कहा है कि वह अब सरकार की अनुमति मिलने का इंतजार करेंगे।

नीतीश सरकार को बताया आतंकी:

यह भी पढ़ें: गोपालगंज ट्रिपल मर्डर के आरोपी MLA के साथ लालू-तेजस्वी की तस्वीर आई सामने, मचा घमासान

बता दें कि स्पीकर से मुलाकात के पहले तेजस्वी ने ट्वीट कर कहा था कि “आतंक राज के आकाओं, रोकना है तो अपने अपराधियों और आतंकियों को रोकिए। शासन को पूर्व सूचना देकर मैं नरसंहार पीड़ितों से मिलने जा रहा हूँ तो अब मुझे क्यों रोक रहे है? प्रशासन जबरदस्ती भीड़ लगाकर हमारे आवास के सामने सोशल डिस्टन्सिंग की धज्जियां उड़ा रही है।

कोइलवर में राजद विधायक भी रोके गए:

दूसरी तरफ तेजस्वी यादव शुक्रवार के बुलावे पर भोजपुर के दो राजद विधायक और एक एमएलसी पटना आ रहे थे। जिन्हें पुलिस ने कोइलवर पुल के पूर्वी छोर पर बिहटा के परेव के पास बने चेक पोस्ट पर रोक दिया। चेक पोस्ट पर मेजिस्ट्रेट की मौजूदगी में पटना और कोइलवर पुलिस द्वारा रोके जाने के बाद काफी देर तक बवाल मचा।

आरा के राजद विधायक अनवर आलम, जगदीशपुर जिले से राजद के विधायक रामविशुन सिंह लोहिया और राजद एमएलसी राधाचरण शाह को कोइलवर और पटना पुलिस ने कोइलवर के पूर्वी छोर पर बिहटा के परेव के पास रोक दिया। लगभग एक घंटे से ज्यादा समय तक विधायकों और पुलिस के बीच नोकझोंक होती रही लेकिन पुलिस ने विधायकों और एमएलसी की गाड़ियों पर अंतरजिला पास न होने का हवाला देते हुए पटना जाने से रोक दिया।

1 COMMENT

  1. मांझी ने दिए लालू खेमा से अलग होने के संकेत, कहा- जाति की राजनीति कर रहे तेजस्वी

    […] […]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here