Advertisement

न्यूज डेस्क: बिहार में कोरोना महामारी से बचाव के लिए पंचायती राज विभाग ने राज्य के सभी मुखिया को ये आदेश दिया था की वो अपने पंचायत में लोगों को मास्क और साबुन उपलब्ध कराएं। इसके लिए उन्हें पैसा भी दिया गया था। लेकिन बिहार के कई मुखिया ने सरकारी फरमान को भी ठेंगा दिखाया।

Advertisement

मिली खबर के मुताबिक पटना जिले के 322 पंचायत में 131 पंचायत ऐसे हैं जहां मास्क और साबुन नहीं बाटें गए हैं। मुखिया ने कोरोना के नाम पर खूब पैसे लूटे हैं। अब इनपर कार्रवाई हो सकती हैं। क्यों की इन सभी मुखिया से सरकार ने पूरी जानकारी मांगी हैं।

आपको बता दें की पंचायती राज कार्यालय ने मुखिया को इसके लिए दोषी मानते हुए स्पष्टीकरण मांगा है तथा इनपर सख्त कार्रवाई के भी संकेत दिए हैं।

यही नहीं ये मुखिया लगातार सराकरी आदेशों को ठेंगा दिखा रहे हैं। साथ ही साथ अपनी मनमानी कर रहे हैं। जिसके कारण गांव में रहने वाले जनता को सरकारी लाभ नहीं मिल पा रहा हैं।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here