Advertisement

पटना डेस्क: मधुबनी जिलाधिकारी निलेश रामचंद्र देवरे ने कोरोना से जंग जीत ली है. 27 मई यह खबर आई थी कि मधुबनी डीएम कोरोना संक्रमित हो गए हैं. हालांकि, स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों से यह खबर सामने आई थी. कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई थी.

Advertisement

ट्वीटर पर वापसी कर दी जानकारी:

अब जिलाधिकारी निलेश रामचंद्र देवरे ने स्वयं इसकी पुष्टि कर दी है कि वह कोरोना संक्रमित हुए थे और उन्होंने कोरोना से जंग जीत ली है. उनका कोरोना जांच निगेटिव पाया गया है. बता दें कि पिछले महीने उन्होंने अपना ट्वीटर अकाउंट निष्क्रिय कर लिया था, अब उन्होंने ट्वीटर पर वापसी करते हुए विजयी होने की जानकारी साझा की.

उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि पिछले 2 दिनों से मैंने कोरोना के किसी भी लक्षण का अनुभव नहीं किया है. मैंने कोरोना का दूसरी बार जांच के लिए नमूना दिया था और परिणाम निगेटिव आया है. मैं अपने परिवार, रिश्तेदारों, वरिष्ठों, सहकर्मियों, दोस्तों का धन्यवाद करता हूं, जिन्होंने मेरी देखभाल की.

यह भी पढ़ें: घर लौटे प्रवासी मजदूरों से जनसंख्या विस्फोट का खतरा, कंडोम बांटेगी बिहार सरकार

कोरोना के लक्षण महसूस होने पर करवाया था जांच:

जिलाधिकारी ने अपने पहले ट्वीट में कोरोना पॉजिटिव पाए जाने की पुष्टि करते हुए लिखा कि कुछ दिनों पहले मेरा कोरोना जांच किया गया था, जिसका रिपोर्ट पॉजिटिव पाया गया था. उन्होंने आगे स्पष्ट किया कि उन्होंने कोरोना के लक्षणों को महसूस किया था. जिनमें उन्होंने गले में खराश, कम ग्रेड बुखार और भूख कम लगना जैसे हल्के लक्षण महसूस किया था.

यह भी पढ़ें: जयनगर-समस्तीपुर रेलखंड से डीजल इंजन का युग समाप्त, बिजली से चलेगी ट्रेनें

दिया जिंदादिली का परिचय:

आगे डीएम साहब ने अपने जिंदादिली का परिचय देते हुए लिखा कि 3/4 दिनों के बाद उन्हें यकीन हो गया था कि उनका अगला जांच नेगेटिव आएगा, वह पॉजिटिव नहीं पाए जाएंगे. इसकी पुष्टि के लिए उन्होंने अपना स्लैब सैंपल को परीक्षण के लिए आरएमआरआई, पटना भेजा, जहां से उनका कोरोना सैंपल नेगेटिव पाया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here