Advertisement


Advertisement

मुजफ्फरपुर के रौतिनिया में कचरा डंप करने की सुविधा मिलने के बाद शहर में निगम ने विशेष अभियान शुरू कर दिया है। अपर नगर आयुक्त विशाल आनंद की निगरानी में चल रहे अभियान में सोमवार को सुबह से देर रात तक 40 से अधिक ट्रैक्टरों से जगह-जगह जमा कचरे को उठाया गया।

 

एक दिन में ही तीन सौ टन से अधिक कचरे का निष्पादन किया गया। अभी शहर में एक हजार टन से अधिक कचरा जमा है। निगम प्रशासन ने दावा किया है कि दो से तीन दिनों में जमा कचरे का निष्पादन कर लिया जाएगा। इसके बाद स्थित सामान्य हो जाएगी और रोज निकलने वाले कचरे का नियमित निष्पादन किया जाएगा।

 

 

अपर नगर आयुक्त ने बहलखाना वर्कशाप का किया निरीक्षण :

अपर नगर आयुक्त विशाल आनंद ने सोमवार को बहलखाना वर्कशाप का निरीक्षण किया।उन्होंने बॉबकॉट व अन्य वाहनों की मरम्मत का कार्य को देखा। निरीक्षण के बाद उन्होंने कहा कि बॉबकॉट मशीन ठीक हो जाने के बाद कचरा निष्पादन के कार्य में तेजी आएगी। इस दौरान बहलखाना प्रभारी राम लखन सिंह मौजूद रहे।

 

 

निगम की नाकामी के खिलाफ आज से पार्षद का अनिश्चितकालीन अनशन :

 

शहर का विकास ठप है। विकास योजनाओं पर काम नहीं हो रहा। पूरा शहर नरक में तब्दील हो गया है। जगह-जगह कचरे का अंबार लगा है। गलियों में बारिश का पानी जमा है। शहरवासी इससे त्रस्त हैं। वे पार्षदों को इसके लिए जिम्मेदार समझ रहे हैं। लेकिन, हकीकत यह है कि निगम प्रशासन की लापरवाही से कोई काम नहीं हो रहा है। पार्षदों को उनका आक्रोश झेलना पर रहा है।

 

निगम की नींद खोलने के लिए वार्ड 27 के पार्षद अजय ओझा मंगलवार से निगम कार्यालय के समक्ष अनिश्चितकालीन अनशन पर बैठेंगे। उन्होंने कहा कि अनशन तब तक जारी रहेगा जब तक निगम व जिला प्रशासन से शहर को नारकीय हालात से मुक्ति दिलाने का आश्वासन नहीं मिल जाता। वहीं उनके समर्थन में निगम के अन्य वार्ड पार्षद भी साथ दे सकते हैं।


Sorry! The Author has not filled his profile.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here